टेक्सास में यहूदी पूजा स्थल में बंदूकधारी ने कई लोगो को बंधक बनाकर की पाकिस्तानी आतंकवादी अफिया सिद्दीकी की रिहाई मांग की।

 टेक्सास में यहूदी पूजा स्थल में बंदूकधारी ने कई लोगो को बंधक बनाकर की पाकिस्तानी  आतंकवादी अफिया सिद्दीकी की रिहाई  मांग की।


 CNN के मुताबिक, बंधकों में एक रब्बी भी शामिल होगा। अधिकारियों के मुताबिक इमारत में FBI और बंदूकधारी के बीच बातचीत चल रही है। पुलिस ने कहा कि इलाके को खाली कराया जा रहा है।

टेक्सास,  

अमेरिका के टेक्सास में एक हथियारबंद व्यक्ति ने स्थानीय समयानुसार शनिवार को यहूदी आराधनालय में घुसकर कई लोगों को बंधक बना लिया, जिनमें से एक को रिहा कर दिया गया। कानून प्रवर्तन के अनुसार, बंदूकधारी ने अफिया सिद्दीकी की रिहाई की मांग की। पाकिस्तानी न्यूरोसाइंटिस्ट अफिया सिद्दीकी को अल-कायदा से संबंध रखने के लिए संयुक्त राज्य अमेरिका में जेल की सजा सुनाई गई है।

 उस समय, राहत की खबर थी कि पूर्व सरकार ग्रेग एबॉट ने पुष्टि की थी कि सभी बंधक सुरक्षित थे। उन्होंने ट्वीट किया: "सभी बंधक जीवित हैं और स्वस्थ हैं।"

 बता दें कि डॉ. पाकिस्तानी नागरिक अफिया सिद्दीकी पर अल-कायदा से जुड़े होने का आरोप है। 2003 में, एक आतंकवादी खालिद शेख मोहम्मद ने FBI को अफिया सिद्दीकी के बारे में बताया, जिन्होंने मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से न्यूरोसाइंस में पीएचडी की थी। इसी आधार पर अफिया को अफगानिस्तान से गिरफ्तार किया गया था।

 पुलिस ने कहा कि इलाके को खाली करा लिया गया है और एहतियात के तौर पर लोगों को इस मार्ग की अनदेखी करने का निर्देश दिया गया है। पुलिस के मुताबिक अभी तक किसी तरह के नुकसान की खबर नहीं है। एसोसिएटेड प्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, सिनेगॉग में चल रहे अनुष्ठानों का फेसबुक पर सीधा प्रसारण किया गया। इसी दौरान बंदूक लिए एक व्यक्ति उसमें घुस गया। लाइव स्ट्रीम में यह नहीं दिखाया गया कि वहां क्या हो रहा है, लेकिन कई बार उस शख्स के इस्लाम के बारे में जोर-जोर से चिल्लाने की आवाजें भी आईंं। बंदूकधारी ने कथित तौर पर बार-बार अपनी बहन और इस्लाम का जिक्र किया।

 कुछ रिपोर्टों का दावा है कि इस हमले को अफिया सिद्दीकी के भाई मुहम्मद सिद्दीकी ने अंजाम दिया था। हालांकि, हमले के बाद मुहम्मद सिद्दीकी ने इन आरोपों का खंडन ही किया था। उन्होंने कहा कि इस मामले में उनका नाम सामने आने से वह नाखुश हैं।

 इस घटना को लेकर अमेरिका में इजरायली अधिकारी लिविया लिंक ने भी बयान दिया। लिविया ने कहा: 'मेरा दिल और मेरी प्रार्थना आज यहूदी समुदाय के साथ है। हम घटना को लगातार अपडेट कर रहे हैं। इस्राइल के विदेश मंत्री यायर लापिड को भी स्थिति से अवगत कराया गया। हमले के बाद प्राप्त प्रारंभिक सूचना से संकेत मिलता है कि बंधकों में एक रब्बी के शामिल होने की संभावना है। इमारत में एफबीआई और बंदूकधारी के बीच भी बातचीत हुई।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.